एचआरडी मंत्रालय के छात्र सोशियल मीडीया को लिंक करने की तर्क को संदेह से देखा गया

एचआरडी मंत्रालय के छात्र सोशियल मीडीया को लिंक करने की तर्क को संदेह से देखा गया
Photo courtesy: ABP Live

एचआरडी मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया जिसमें संस्थानों को छात्रों को सोशल मीडिया अकाउंट (फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम) को उनसे जोड़ने के लिए कहा गया और यह छात्रों और शिक्षकों द्वारा संदेह के साथ देखा गया। उन्हें डर है कि उनके राजनीतिक विचारों पर नज़र रखी जाएगी और वर्तमान सरकार के विचारों से अलग होने के लिए उन पर हमला की जाएगी। संदेह पर प्रतिक्रिया देते हुए, एचआरडी मंत्रालय ने कहा कि उनका इरादा राजनीतिक नहीं था। उन्होने कहा कि इरादा विभिन्न राय और विचारों के आदान-प्रदान के लिए एक गतिशील मंच प्रदान करने का था। आक्रोश को कम करने के लिए, सरकार ने कहा है कि इस कदम को अनिवार्य नहीं बनाया जाएगा।

Source: Twitter

Visit www.werindia.com OR Hindi.werindia.com to read news from 500+ news sources... आपका अपना डिजिटल अख़बार |



     
  • 10 Jul 2019
  • Kodhai

Leave a Reply

Recommended for you

Your Opinion

Ayodhya Case : What is going to be the verdict of Supreme court?

View Results

Loading ... Loading ...

View Older Polls

आपकी राय

अयोध्या केस : क्या होगा सुप्रीम कोर्ट का फैसला?

View Results

Loading ... Loading ...

View Older Polls